2 Jan Current Affair


2 Jan Current Affair

2019-03-21 21:58:31


झारसुगुड़ा हवाई अड्डे का नाम बदलकर 'वीर सुरेन्द्र साई हवाई अड्डा' करने के लिए मिली मंजूरी

  • केंद्रीय मंत्रिमंडल ने ओड़िशा के झारसुगुड़ा हवाई अड्डे का नाम ‘वीर सुरेन्द्र साई हवाई अड्डा’ कर ने को 1 नवम्बर को स्वीकृति दे दी है।
  • प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में हुई केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक में इस आशय के प्रस्ताव को मंजूरी दी गई।
  • उल्लेखनीय है कि वीर सुरेन्द्र साई ओड़िशा के जाने-माने स्वतंत्रता सेनानी थे, जिन्होंने ब्रिटिश ईस्ट इंडिया कंपनी के खिलाफ अपने जीवन का त्याग किया। उनका जन्म 1809 में संबलपुर (ओडिशा) के पास खिंडा गांव में हुआ था।
  • झारसुगुड़ा हवाई अड्डे को नया नाम देने को लेकर ओडिशा सरकार और स्थानीय लोग काफी समय से मांग कर रहे थे।

धर्म गार्जियन-2018: भारत-जापान संयुक्त सैन्य अभ्यास

  • भारत और जापान सैन्‍य सहयोग को बढ़ावा देने के लिए प्रथम संयुक्‍त सैन्‍य अभ्‍यास ‘धर्म गार्जियन-2018’ का 01 नवम्‍बर से 14 नवम्‍बर 2018 तक भारत के वैरेंटे में स्थित काउंटर इन्‍सर्जेंसी वारफेयर स्‍कूल में आयोजन कर रहा है।
  • इस सैन्‍य अभ्‍यास में भारतीय सेना और जापान ग्राउंड सेल्‍फ डिफेंस फोर्स भाग ले रहे हैं।
  • भारतीय दल का प्रतिनिधित्‍व 6/1 गोरखा रायफल्‍स और जापानी दल का प्रतिनिधित्‍व  जापान ग्राउंड सेल्‍फ डिफेंस फोर्स की 32 इन्‍फैंट्री रेजीमेंट ने किया।
  • इस दौरान दोनों पक्ष शहरों में युद्ध जैसी स्थिति बनने पर संभावित खतरों के निराकरण के लिए अनगिनत सामरिक सैन्‍य अभ्‍यास के लिए संयुक्‍त रूप से प्रशिक्षण की व्‍यवस्‍था एवं योजना बनाने के साथ-साथ उनका समुचित कार्यान्‍वयन भी करेंगे।

          ये होगा फायदा

  • इस सैन्‍य अभ्‍यास से पारंस्‍परिक समझ विकसित करने और एक दूसरे की सेनाओं के प्रति सम्‍मान भाव उत्‍पन्‍न करने में काफी मदद मिलेगी।
  • इससे आतंकवाद से जुड़े वैश्विक घटनाक्रम पर करीबी नजर रखने में भी आसानी होगी।

SCO देशों के साथ संयुक्त अभ्यास में शामिल होगा भारत

  • भारत SCO के सदस्य देशों के साथ आगामी फरवरी में शहरी क्षेत्रों में भूकंप से बचाव पर संयुक्त अभ्यास में शामिल होगा।
  • यह अभ्यास 21 से 24 फरवरी 2019 तक राजधानी दिल्ली में आयोजित किया जाएगा।
  • इसके मद्देनजर राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (NDRF) ने 1 नवंबर से दो दिवसीय बैठक का आयोजन किया, इसमें आठ देश भारत, चीन, कजाखस्तान, किर्गिस्तान, पाकिस्तान, रूस, ताजिकिस्तान और उजबेकिस्तान शामिल हैं।
  • राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (एनडीएमए) के सदस्य आरके जैन ने कहा कि शंघाई सहयोग संगठन (SCO) के सदस्य देशों के आपदा रोकथाम विभागों के प्रमुखों की 9वीं बैठक केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह की अध्यक्षता में अगस्त, 2017 को किर्गिस्तान में आयोजित हुई थी, लेकिन इस बार भारत में यह बैठक आयोजित की जा रही है।
  • आरके जैन ने कहा कि आपदाओं की चुनौतियां सभी देशों के लिए समान है और यदि आपदाओं के जोखिम में कमी आती है तो इससे सभी को फायदा होगा।

भारत ने वेस्टइंडीज के खिलाफ पांच मैचों की एकदिवसई सीरीज़ 3-1 से जीती

  • भारत बनाम वेस्टइंडीज के बीच खेले गए एकदिवसई सीरीज का पांचवां और आखिरी मुकाबला भारत ने 9 विकेट से जीत लिया।
  • यह मैच तिरुवनंतपुरम के ग्रीनफील्ड अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम में खेला गया था।
  • बता दें, भारत ने वेस्ट इंडीज टीम को 9 विकेट से हराकर 3-1 से सीरीज पर कब्जा किया है।
  • भारतीय टीम की ओर से रोहित शर्मा ने सर्वाधिक 63 रन बनाए. रोहित शर्मा के नाम एक और रिकॉर्ड दर्ज हो गया है। वह साल 2018 में 1000 रन पूरा करने वाले तीसरे क्रिकेटर बन गए हैं।
  • उनके अलावा इंग्लैंड के खिलाड़ी जॉनी बेयरस्टो और भारत के कप्तान विराट कोहली यह कारनामा कर चुके हैं।

          पुरस्कार

  • विराट कोहली (5 मैचों में 151 के औसत से 453 रन) को पूरे टूर्नामेंट में शानदार प्रदर्शन करने के लिए ''मैन ऑफ द सीरीज'' चुना गया।
  • उपकप्तान रोहित शर्मा को ''प्लेयर ऑफ़ द सीरीज'' से नवाजा गया।

          वेस्टइंडीज के खिलाफ है भारत का शानदार रिकॉर्ड

  • बता दें, 2007 से भारत वेस्टइंडीज के खिलाफ सीरीज नहीं हारा है।
  • भारत के खिलाफ विंडीज ने (104 रन) सबसे कम रन का लक्ष्य दिया।
  • पिछले तीन साल से भारत घर में कोई सीरीज नहीं हारा, आखिरी बार 2015 में दक्षिण अफ्रीका से भारत को हार का सामना करना पड़ा था।

          यह भी जानें

  • एकदिवसई मैचों में सबसे ज्यादा छक्के पाकिस्तान के शहीद अफरीदी (357) के नाम हैं।
  • भारत की तरफ से सबसे ज्यादा अंतर्राष्ट्रीय छक्के महेंद्र सिंह धोनी (218) के नाम है।
  • रोहित शर्मा ने सबसे कम परियों (187 पारी) में 200 छक्के लगाने का कारनामा किया।

विश्व कॉर्पोरेट खेल- 2019 की मेजबानी करेगा कतर

  • कतर अगले वर्ष विश्व कॉर्पोरेट खेलों के 23वें संस्करण की मेजबानी करेगा।
  • यह पहली बार है जब विश्व कॉर्पोरेट खेलों मध्य पूर्व में आयोजित किया जाएगा।
  • खेल आयोजन हर एक से दो साल में होता है और अंतिम संस्करण पिछले साल अमेरिका में ह्यूस्टन में आयोजित किया गया था।
  • लगभग 30 साल पहले स्थापित विश्व कॉर्पोरेट खेलों का उद्देश्य स्थानीय, क्षेत्रीय और अंतरराष्ट्रीय व्यापार खेल समुदाय को एक साथ लाना है।

राजस्थान प्रयोगशाला ने ई-क्रैकर्स विकसित किया

  • राजस्थान के झुनझुनू जिले में एक केंद्र संचालित प्रयोगशाला ने ई-क्रैकर्स यानी इलेक्ट्रॉनिक्स क्रैकर्स विकसित किए हैं।
  • यह ई-क्रैकर्स वायु प्रदूषण को बढ़ाने वाले धुएं की जगह पारंपरिक अग्निशामक के समान प्रकाश और ध्वनि उत्पन्न करने में सक्षम हैं।
  • पिलानी में सेंट्रल इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग रिसर्च इंस्टीट्यूट (सीईईआरआई) के वैज्ञानिकों ने हाल ही में बैटरी-वाले ई-क्रैकर्स, फायरक्रैकर्स के इलेक्ट्रॉनिक संस्करण की चार किस्में विकसित की हैं।
  • सीईईआरआई, वैज्ञानिक और औद्योगिक अनुसंधान परिषद (सीएसआईआर) के अधीन है, इसने 4 नवंबर को लोगों को पिलानी परिसर में अपना प्रदर्शन देखने के लिए आमंत्रित किया है।
  • सीईईआरआई के निदेशक संतानु चौधरी ने कहा कि ई-क्रैकर विभिन्न तरह की रोशनी और ध्वनियां उत्पन्न करता है और पुन: प्रयोज्य भी है।
  • इसमें एक रिचार्जेबल बैटरी का उपयोग किया गया है और यह पूरी तरह से सुरक्षित है।

          वैज्ञानिक और औद्योगिक अनुसंधान परिषद

  • वैज्ञानिक एवं औद्योगिक अनुसंधान परिषद भारत का सबसे बड़ा विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी पर अनुसंधान एवं विकास संबंधी संस्थान है।
  • इसकी स्थापना 1942 में हुई थी, इसकी वित्त प्रबंध भारत सरकार के विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्रालय द्वारा होता है, लेकिन फिर भी ये एक स्वायत्त संस्था जानी जाती है।

          केन्‍द्रीय इलेक्‍ट्रोनिकी अभियांत्रिकी अनुसंधान संस्‍थान

  • केन्‍द्रीय इलेक्‍ट्रोनिकी अभियांत्रिकी अनुसंधान संस्‍थान (सीरी), पिलानी, वैज्ञानिक तथा औद्योगिक अनुसंधान परिषद की एक संघटक प्रयोगशाला है, जिसकी स्थापना सन् 1953 में हुई थी।
  • यह संस्थान मुख्यत: अर्धचालक युक्तियों, इलेक्ट्रोनिक प्रणालियों और इलेक्ट्रोनिक नलिकाओं के क्षेत्र में शोध् एवं विकास में कार्यरत है।
  • पिलानी में मुख्यालय के साथ-साथ चेन्‍नै में इसका क्षेत्रीय केन्द्र है जो कि सी.एस.आई.आर. काम्‍प्‍लेक्स के परिसर में कार्यरत है।

पिछले 44 वर्षों में 60 प्रतिशत पशु आबादी, मानव गतिविधि द्वारा खत्म हो गई: डब्ल्यूडब्ल्यूएफ

  • हाल ही में आई डब्ल्यूडब्ल्यूएफ की "लिविंग प्लैनेट" रिपोर्ट के अनुसार, 1970 से 2014 तक, सभी जानवरों में से 60 प्रतिशत मानव गतिविधियों के कारण ख़त्म हो गए हैं।
  • डब्ल्यूडब्ल्यूएफ के नए अनुमान के तहत, वन्यजीवन के नरसंहार का नया अनुमान द्वारा उत्पादित एक प्रमुख रिपोर्ट में बनाया गया है और दुनिया भर के 59 वैज्ञानिक शामिल हैं।
  • वन्यजीवन के नरसंहार के बारे में एक रिपोर्ट जारी की गई है, जिसे डब्ल्यूडब्ल्यूएफ द्वारा तैयार की गई है।
  • डब्ल्यूडब्ल्यूएफ के अंतरराष्ट्रीय महानिदेशक मार्को लैम्बर्टिनी ने बताया कि, "स्थिति वास्तव में खराब है, और यह और भी खराब होती जा रही है।"

          डब्ल्यूडब्ल्यूएफ के बारे में

  • वर्ल्ड वाइड फंड फॉर नेचर, 1961 में स्थापित एक अंतरराष्ट्रीय गैर-सरकारी संगठन है।
  • इसका मुख्यालय ग्लैंड (स्विजरलैंड) में है।
  • दुनिया का अग्रणी संरक्षण संगठन, डब्ल्यूडब्ल्यूएफ 100 देशों में काम करता है और संयुक्त राज्य अमेरिका में दस लाख से अधिक सदस्यों द्वारा समर्थित है।

पलाऊ ने सनस्क्रीन पर प्रतिबन्ध लगाया

  • पलाऊ अपने कमजोर प्रवाल चट्टानों की रक्षा के प्रयास में सनस्क्रीन पर व्यापक प्रतिबंध लगाने के लिए पहला देश बनने वाला है।
  • सरकार ने एक ऐसे कानून पर हस्ताक्षर किए हैं जो सनस्क्रीन और स्किनकेयर उत्पादों की बिक्री और उपयोग को प्रतिबंधित करता है।
  • शोधकर्ताओं का मानना है कि ये अवयव समुद्री जीवन के लिए अत्यधिक जहरीले हैं, और मूंगा को ब्लीचिंग के लिए अतिसंवेदनशील बना सकते हैं।

Share


Add a Comment

Leave your suggestion for a better Service.
Name *

E-mail *




Comments


Like us on Fb

Advirtisement